सरकार की लापरवाही के कारण मृत्यु हो गई,कोई भी मृत शरीर उठाने वाला नही था:कोविड से पत्नी की मृत्यु के बाद पूर्व जिला न्यायाधीश

यह हादसा लखनऊ में हुआ, जहां स्थिति बहुत ही भयावह है। पूर्व न्यायाधीश द्वारा लिखे गए पत्र से पता चला कि उनकी पत्नी को अस्पताल में भर्ती करने की प्रक्रिया भी शुरू नहीं की गई थी।
सरकार की लापरवाही के कारण मृत्यु हो गई,कोई भी मृत शरीर उठाने वाला नही था:कोविड से पत्नी की मृत्यु के बाद पूर्व जिला न्यायाधीश
Hospital

उत्तर प्रदेश के एक पूर्व जिला न्यायाधीश की पत्नी का निधन COVID-19 के कारण हुआ।

मृतका के पति पूर्व न्यायाधीश द्वारा लिखे गए एक खुले पत्र में राज्य में कोविड की स्थिति की एक गंभीर तस्वीर चित्रित की थी।

पति रमेश चंद्रा के पत्र ने कहा, “सरकार की लापरवाही के कारण मधु चंद्रा की मृत्यु हो गई। वर्तमान समय में स्थिति यह है कि कोई भी शव उठाने वाला नहीं है। कृपया मदद कीजिए"।

यह घटना उत्तर प्रदेश के लखनऊ में हुई थी, जहाँ परिवार रहता है। रमेश चंद्रा के पत्र के अनुसार, उनकी पत्नी और स्वयं COVID -19 संक्रमित हो गए थे और उन्होने स्वयं को घर में आइसोलेट कर लिया था ।

पत्र में कहा गया है, "कल से मैं सभी को फोन करने की कोशिश कर रहा हूं, लेकिन कोई भी मेरी कॉल को अटेंड नहीं कर रहा है, यहां तक कि कोई भी बेसिक होम आइसोलेशन (कोविड -19 मेडिसिन) देने भी नहीं आया है।"

पत्र में आगे कहा गया है कि अस्पताल में मरीज को भर्ती करने की प्रक्रिया का भी पालन नहीं किया गया और बुनियादी दवाएं नहीं दी गईं।

एडवोकेट हैदर अली ने बार एंड बेंच को बताया कि (स्वर्गीय) श्रीमती चंद्रा पूरी तरह से टीकाकरण कर चुकी थीं और दोनों शॉट ले चुकी थीं।

आज कोविड की वजह से एक करीबी दोस्त की माँ की मृत्यु हो गई। उसे अस्पतालों में बेड भी नहीं मिला। उनके पति एक सेवानिवृत्त जिला न्यायाधीश हैं, वह किसी तरह अपनी पत्नी को अस्पताल में भर्ती करवाने की कोशिश करते रहे लेकिन स्थिति इतनी दयनीय और भयानक है कि उन्हें दवाएँ भी नहीं भेजी गईं। इसके अलावा उसने टीके के दोनों शॉट्स भी लगवाये थे।

[पत्र पढ़ें]

Attachment
PDF
Open_Letter_by_Judge.pdf
Preview

और अधिक पढ़ने के लिए नीचे दिये गए लिंक पर क्लिक करें


"She died due to negligence of Govt, no one was there to tend to the body:" Former District Judge pens open letter after wife dies of Covid-19

No stories found.
Hindi Bar & Bench
hindi.barandbench.com