रमजान के दौरान नमाज के लिए लोगो को अंदर जाने की अनुमति की मांग वाली जुमा मस्जिद ट्रस्ट की याचिका को बॉम्बे HC ने खारिज किया

पूजा स्थलों को बंद करने के लिए महाराष्ट्र सरकार के आदेश के आलोक में अनुमति मागते हुए ट्रस्ट ने उच्च न्यायालय का रुख किया था
रमजान के दौरान नमाज के लिए लोगो को अंदर जाने की अनुमति की मांग वाली जुमा मस्जिद ट्रस्ट की याचिका को बॉम्बे HC ने खारिज किया
Mosque

बंबई उच्च न्यायालय ने बुधवार को बॉम्बे ट्रस्ट की जुमा मस्जिद को रमज़ान के महीने भर चलने वाले त्योहार के दौरान मुंबई में मस्जिद में लोगों को नमाज़ (प्रार्थना) की अनुमति देने से मना कर दिया।

मस्जिद में दिन में पांच बार नमाज अदा करने की अनुमति की मांग वाली जुमा मस्जिद ट्रस्ट द्वारा प्रस्तुत याचिका उच्च न्यायालय की अवकाश पीठ के समक्ष प्रस्तुत की गयी

जस्टिस आरडी धानुका और वीजी बिष्ट की खंडपीठ ने राज्य में कोविड के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए राहत देने से इनकार कर दिया।

यह याचिका मंगलवार शाम को महाराष्ट्र सरकार द्वारा जारी एक आदेश के आधार पर प्रस्तुत की गयी थी, जिसमें राज्य में वायरस से निपटने के लिए कर्फ्यू, प्रतिबंधित आवाजाही और रात्रि तालाबंदी को लागू किया गया था।

यह आदेश दिया गया कि पूजा स्थल 1 मई 2021 तक बंद रहेंगे।

और अधिक पढ़ने के लिए नीचे दिये गए लिंक पर क्लिक करें


Bombay High Court rejects plea by Juma Masjid Trust seeking permission to allow people inside for Namaz during Ramzan

No stories found.
Hindi Bar & Bench
hindi.barandbench.com